Wednesday, February 28, 2024
HomeSportsCricketहैदराबाद को फिर चैंपियन बना सकते हैं ये स्टार खिलाड़ी

हैदराबाद को फिर चैंपियन बना सकते हैं ये स्टार खिलाड़ी

इंडियन टी20 लीग में हैदराबाद काफी मजबूत टीम मानी जाती है। हैदराबाद का पिछला सीजन भी काफी अच्छा रहा था। लेकिन दूसरे क्वालीफायर मुकाबले में उन्हें दिल्ली के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था। 2021 की नीलामी में हैदराबाद ने बहुत ज्यादा बोली नहीं लगाई थी।

टीम के मेंटर वीवीएस लक्ष्मण ने खुलासा किया था कि वे ग्लेन मैक्सवेल और कृष्णप्पा गौथम को टीम में शामिल करना चाहते थे लेकिन ऐसा हो नहीं पाया। अंत में उन्होंने केदार जाधव, जगदीश सुचित और मुजीब उर रहमान को अपनी टीम में शामिल किया। इस बात की बहुत अधिक संभावना है कि हैदराबाद अपनी टीम में बहुत ज्यादा बदलाव नहीं करेगी। हमें इस सीजन में अंतिम एकादश वैसी ही नजर आ सकती है जैसे कि हमने पिछले सीजन में देखा था।

आइए जानते हैं कि कौनसे खिलाड़ी बनाएंगे हैदराबाद को मजबूत-

सलामी बल्लेबाज-

डेविड वॉर्नर-ऋद्धिमान साहा

इस साल हम डेविड वॉर्नर के साथ ऋद्धिमान साहा को सलामी बल्लेबाज के रूप में देख सकते हैं। हालांकि जॉनी बेयरस्टो भी टीम के पास सलामी बल्लेबाज का विकल्प हैं। जॉनी बेयरस्टो ने हाल ही में हुई भारत-इंग्लैंड सीरीज में भी अपने बल्ले से कमाल किया था। लेकिन पिछले सीजन के आखिरी मैचों में साहा और वॉर्नर की जोड़ी ने कमाल का खेल दिखाया था। पिछले सीजन में साहा ने केवल 4 मैच ही खेले थे। लेकिन इन 4 मैचों में उन्होंने 71.33 की औसत एवं 139.86 की स्ट्राइक रेट से 214 रन बनाए थे इसमें दो अर्धशतक भी शामिल थे। 

वहीं डेविड वॉर्नर इंडियन टी20 लीग के सबसे सफल बल्लेबाजों में से हैं और हैदराबाद को चैंपियन का खिताब भी दिलवा चुके हैं। पिछले सीजन में वॉर्नर के बल्ले से 16 मैचों में 548 रन आए थे। वॉर्नर इस वर्ष अपनी टीम को फिर से चैंपियन बनाने का लक्ष्य लेकर दूसरी टीमों को टक्कर देंगे।

मध्यक्रम-

केन विलियमसन, मनीष पांडे

केन विलियमसन हैदराबाद टीम की रीढ हैं। न्यूजीलैंड के कप्तान अपने अनुभव और शांत स्वभाव के कारण टीम को बहुत कुछ सिखाते हैं। उनकी नेतृत्व क्षमता भी कमाल की है जो कि हैदराबाद के लिए एक प्लस प्वाइंट है। हैदराबाद के लिए वे नंबर तीन पर बल्लेबाजी करते हुए नजर आ सकते हैं। पिछले सीजन में उन्होंने हैदराबाद के लिए 12 मैचों में 45.28 की औसत से 317 रन बनाए थे। 

मनीष पांडे भी हैदराबाद के मध्यक्रम को मजबूत करते नजर आएंगे। पिछले वर्ष उन्होंने अपनी टीम के लिए कुछ शानदार पारियां खेली थीं। वे हैदराबाद के लिए अच्छे मैच फिनिशर भी साबित हो सकते हैं। इंडियन टी20 लीग करियर में 3268 रन बना चुके पांडे ने पिछले सीजन में 16 मैचों में 3 अर्धशतकों की मदद से 425 रन बनाए थे।

ऑलराउंडर्स- विजय शंकर, अब्दुल समद, जेसन होल्डर

चोटिल होने की वजह से विजय शंकर को पिछले सीजन में अधिकांश मैचों में बाहर बैठना पड़ा था। लेकिन अब वे पूरी तरह से फिट हैं और इंडियन टी20 लीग में अपना जलवा बिखेरने के लिए पूरी तरह से तैयार हैैं। विजय शंकर बड़े हिट्स लगाने में सक्षम हैं साथ ही वे मध्य ओवरो में गेंदबाजी का जिम्मा भी संभाल सकते हैं। पिछले सीजन में उन्होंने एक अर्धशतक जड़ा था और एक विकेट झटका था। इस सीजन में वे पूरी तैयारी के साथ मैदान पर लौटेंगे।

अब्दुल समद और अभिषेक शर्मा के बीच में चयन टीम के लिए थोड़ा मुश्किल हो सकता है। दोनों ही प्रतिभाशाली ऑलरांउडर हैं लेकिन टीम दोनों में से किसी एक को जगह देगी। समद ने पिछले सीजन में काफी प्रभावित किया था। उनके बल्ले से हमने कुछ लंबे छक्के भी देखे थे उन्होंने बुमराह जैसे गेंदबाज को छक्का मारा। पिछले सीजन में समद ने 170.76 की स्ट्राइक रेट से 12 मैचों में 111 रन बनाए। 

जेसन होल्डर हैदराबाद के अंतिम ऑलराउंडर होंगे। होल्डर ने अंतिम ओवरों में हैदराबाद की ओर से कई लाजवाब पारियां खेली हैं और विकेट भी चटकाए हैं। पिछले सीजन में उनको बल्लेबाजी करने का बहुत ज्यादा मौका नहीं मिला था। लेकिन 7 मैचों में उन्होंने 14 विकेट चटकाए थे। वे अंतिम ओवरों में लंबे हिट लगाने की क्षमता रखते हैं। 

वहीं केदार जाधव, जिन्हें उनके अनुभव के कारण टीम में शामिल किया गया है को शायद तब ही मौका मिल सकता है जब होल्डर या विजय शंकर मैच में ना खेलें। अब्दुल समद के स्थान पर भी टीम केदार को आजमा सकती है।

गेंदबाज- राशिद खान, भुवनेश्वर कुमार, शाहबाज़ नदीम, टी नटराजन

जब टी20 क्रिकेट के सफल गेंदबाजों की बात होती है तो उसमें राशिद खाद का नाम जरूर लिया जाता है। राशिद खान को ‘मिस्ट्री स्पिनर‘ कहा जाता है। क्योंकि बल्लेबाजों को उनकी गेंदे खेलने में काफी परेशानी होती हैं। यही खासियत है कि राशिद खान विकेट तो चटकाते ही हैं साथ ही वे किफायती गेंदबाजी भी करते हैं। निसंदेह इस बार भी वे हैदराबाद के गेंदबाजी आक्रमण का नेतृत्व करेंगे। पिछले सीजन में राशिद खान ने 16 मैचों में महज 5.37 की इकॉनमी दर से 20 विकेट लिए थे। 

उनके साथ ही बाएं हाथ के स्पिनर शाहबाज नदीम भी टीम के लिए स्पिन गेंदबाज का विकल्प होंगे। वे 2011 से इंडियन टी20 लीग का हिस्सा हैं। लेकिन वे बहुत निरंतर नहीं रहे हैं। पिछले सीजन में उन्होंने हैदराबाद के लिए 7 मैचों में 5 विकेट झटके थे। बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज जगदीश सुचित भी एक विकल्प हो सकते हैं। लेकिन अभी उनके पास अनुभव की कमी है।

तेज गेंदबाजों में भुवनेश्वर कुमार और टी नटराजन दो प्रमुख नाम हैं। दोनों तेज गेंदबाजी का जिम्मा संभालेंगे। चोट से उबर कर भुवनेश्वर कुमार ने इंग्लैंड के खिलाफ जबरदस्त वापसी की है। ऐसे में वे तेज गेंदबाजी आक्रमण का नेतृत्व करेंगे। टी नटराजन ने इंडियन टी20 लीग में प्रदर्शन के दम पर ही टीम इंडिया में जगह बनाई। पिछले साल उन्होंने अपनी यॉर्कर गेंदो से बल्लेबाजों को खूब परेशान किया था। पिछले सीजन में उन्होंने 16 मैचों में 16 विकेट झटके थे।

 मुजीब उर रहमान और मोहम्मद नबी शायद ही प्लेइंग इलेवन का हिस्सा बनें। खलील अहमद और सिद्धार्थ कौल भी अन्य खिलाड़ियों की अनुपस्थिति में टीम में शामिल किए जाएंगे।

हैदराबाद की संभावित एकादश इस प्रकार हो सकती है-

डेविड वार्नर (कप्तान), रिद्धिमान साहा (विकेटकीपर), केन विलियमसन, मनीष पांडे, विजय शंकर, अब्दुल समद, जेसन होल्डर, राशिद खान, भुवनेश्वर कुमार, शाहबाज नदीम, टी नटराजन

RELATED ARTICLES

Subscribe

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

https://www.myteam11.com/

Most Popular