Saturday, June 3, 2023
HomeSportsCricketभारतीय क्रिकेट इतिहास के 5 अनचाहे रिकॉर्ड

भारतीय क्रिकेट इतिहास के 5 अनचाहे रिकॉर्ड

दोस्तों भारत में क्रिकेट के प्रेम से तो हम सभी परिचित हैं, हमारे देश में क्रिकेट को धर्म का दर्जा दिया गया है, जो भारतवासियों के दिल में क्रिकेट के प्रति सम्मान को दर्शाता है। भारत ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की दुनिया में लगभग 88 साल पूरे कर लिए हैं और इन वर्षों में भारतीय क्रिकेट टीम ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों में मिलाकर 1655 मैच भी खेले हैं। कोरोना वायरस महामारी के कारण अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट पर रोक लगी हुई है। इसलिए क्रिकेट से जुड़ी कुछ असाधारण स्मृतियों को जीवंत करने के लिए यह लेख प्रस्तुत किया जा रहा है। 

भारतीय क्रिकेट टीम वर्तमान में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की दुनिया में एक दिग्गज टीम है, भारत ने दो विश्व कप, एक टी-20 विश्व कप और दो बार चैंपियंस ट्राॅफी भी जीती है, और भारतीय खिलाड़ियों और भारतीय टीम ने कई बड़े-बड़े विश्व कीर्तिमान स्थापित किए हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि भारतीय टीम के नाम कुछ अनचाहे रिकॉर्ड भी दर्ज हैं, जिन्हें भारतीय खिलाड़ी ज्यादा याद नहीं करना चाहेंगे, लेकिन ये ऐसे रिकॉर्ड है जो सिर्फ भारतीय क्रिकेट के नाम है। आइए जानते हैं कुछ ऐसे ही रिकाॅर्ड्स के बारे में-

1.    वनडे क्रिकेट इतिहास में सर्वाधिक हार

यदि पिछले कुछ वर्षों में भारतीय क्रिकेट टीम के प्रदर्शन पर नजर डाली जाए तो उनमें हमें कई बड़ी-बड़ी पारियां, बड़े-बड़े स्कोर, कई धुंआधार शतक और असंख्य चौके-छक्के मिलेंगे। लेकिन इन सबके बाद भी टीम इंडिया, जो कि एकदिवसीय मैचों के दो विश्व कप जीत चुकी है, उसी टीम के नाम एकदिवसीय क्रिकेट इतिहास की सबसे ज्यादा हार का रिकॉर्ड दर्ज है। जी हां, भारतीय टीम ने अब तक खेले गए 987 मुकाबलों में से 423 मुकाबलों में हार का सामना किया है। इस बात पर विश्वास करना थोड़ा मुश्किल है लेकिन यह बिल्कुल सच है।

2.    टेस्ट मैच के एक ही दिन में दो बार टीम ऑल आउट

टेस्ट रैंकिंग में नंबर एक पर रह चुकी टीम इंडिया के नाम एक और अनचाहा रिकॉर्ड है जिसके बारे में बहुत कम लोग जानते हैं। इस वक्त टीम इंडिया टेस्ट में नंबर तीन पर है और आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप में इस वक्त सबसे टाॅप टीम है। लगभग दो वर्ष पहले टीम इंडिया ने अफगानिस्तान की मेजबानी की थी, उस मैच में टीम इंडिया ने अफगानिस्तान को एक दिन में दो बार ऑल आउट कर दिया था। लेकिन क्या आप जानते हैं कि ऐसा ही रिकॉर्ड इंडिया के नाम भी दर्ज है। 1952 में टीम इंडिया इंग्लैण्ड के दौरे पर थी, उस समय टीम के कप्तान थे विजय हजारे, कप्तान विजय हजारे के नेतृत्व वाली टीम टेस्ट मैच के तीसरे दिन दो बार ऑल आउट हो गई, और एक ही दिन में दो बार ऑल आउट होने वाली सबसे पहली टीम बन गई। दोनों पारियों में टीम ने केवल 140 रन बनाए और 58 ओवर के अंतराल में दो बार ऑल आउट हो गई।

3.    टीम इंडिया के खिलाफ सबसे ज्यादा बार बना है 350+ स्कोर

भारतीय टीम अपनी मजबूत बैटिंग लाइन अप के लिए जानी जाती है, यही कारण है भारतीय टीम ने अब तक 26 बार एकदिवसीय मैचों में 350 से ज्यादा का स्कोर बनाया है, इस मामले में भारतीय टीम दूसरे स्थान पर है, 27 बार 350 से ज्यादा के स्कोर के साथ दक्षिण अफ्रीका पहले स्थान पर है। लेकिन इसके साथ ही भारतीय टीम के खिलाफ सबसे ज्यादा बार 350+ रन के स्कोर बने हैं, 12 बार भारतीय टीम के खिलाफ 350 से अधिक स्कोर अन्य टीमों ने बनाए हैं। इस मामले में भारतीय टीम नंबर वन है, लेकिन इसके बारे में शायद कम ही लोग जानते हैं, क्योंकि भारतीय टीम की मजबूत बल्लेबाजी के आगे ऐसे अनचाहे रिकाॅर्ड्स पर किसी का ध्यान नहीं जाता।

4.    एक टी-20 मैच में सबसे ज्यादा चौके खाने का रिकॉर्ड

टी-20 क्रिकेट की लोकप्रियता में भारत का बड़ा योगदान है, सबसे पहला टी-20 विश्वकप जीतने वाली टीम भारत ही है। भारत ने 2007 में पहला टी-20 विश्वकप जीत कर फटाफट क्रिकेट को नए आयाम पर पहुंचाया, उसी टूर्नामेंट में युवराज सिंह द्वारा एक ओवर में लगाए गए 6 छक्कों को कौन भूल सकता है। इसके बाद भारतीय खिलाड़ियों ने टी-20 फाॅर्मेट में भी कई रिकाॅर्ड्स बनाए, लेकिन भारतीय टीम के नाम टी-20 में ऐसा रिकॉर्ड भी है जिसके बारे में लोगों को नहीं पता होगा, भारतीय खिलाड़ी भी उस रिकॉर्ड को याद नहीं रखना चाहेंगे। ये रिकॉर्ड है टी-20 मैच की एक पारी में सबसे ज्यादा चौके खाने का रिकॉर्ड, वर्ष 2009 में श्रीलंका भारत दौरे पर थी, उसी दौरे पर हुए एक टी-20 मैच में श्रीलंकाई चीतों ने भारतीय गेंदबाजों के खिलाफ 29 चौके जड़े, ये किसी भी टी-20 मैच की एक पारी में लगाए गए सर्वाधिक चौके हैं, उम्मीद है कि भारतीय टीम के खिलाफ भविष्य में ऐसा कोई रिकॉर्ड नहीं बनेगा।

5.    टेस्ट की एक पारी में सर्वाधिक अतिरिक्त रन देने का रिकॉर्ड

जी हां, ये रिकॉर्ड भी टीम इंडिया के नाम ही दर्ज है। लेकिन इससे भी हैरान कर देने वाली बात यह है कि यह रिकॉर्ड कौनसी टीम के खिलाफ भारतीय टीम ने बनाया? तो, ये रिकॉर्ड दर्ज हुआ है भारत के सबसे चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के खिलाफ, 2007 में बेंगलुरू में खेले गए एक टेस्ट मैच के दौरान भारतीय टीम के गेंदबाजों ने एक पारी में ही 76 अतिरिक्त रन लुटा डाले जिसमें 15 नो-बाॅल शामिल है। भारतीय टीम के गेंदबाजों द्वारा इतने अतिरिक्त रन लुटाए जाने की बात हजम नहीं होती लेकिन यह सच है, भारतीय टीम ने टेस्ट की एक पारी में सर्वाधिक रन लुटाए हैं। हांलाकि ये मैच ड्राॅ रहा था और भारतीय टीम ने इस टेस्ट सीरीज में पाकिस्तान को 27 साल बाद अपनी सरजमीं पर शिकस्त भी दी थी।

तो ये थे टीम इंडिया के नाम पर दर्ज कुछ ऐसे रिकॉर्ड जिन्हें ज्यादा याद नहीं किया जाना चाहिए, क्रिकेट एक अनिश्चितताओं का खेल है यदि किसी टीम के खिलाफ के कई बड़े-बड़े वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज होते हैं तो वहीं कुछ ऐसे अनचाहे रिकॉर्ड भी अवश्य ही दर्ज होते हैं जिन्हें कोई टीम बहुत लंबे समय तक याद नहीं रखना चाहेगी।

RELATED ARTICLES

Subscribe

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

https://www.myteam11.com/

Most Popular