Sunday, February 5, 2023
HomeSportsCricketटेस्ट क्रिकेट में नंबर 1 से 11 तक सबसे ज्यादा शतक जड़ने...

टेस्ट क्रिकेट में नंबर 1 से 11 तक सबसे ज्यादा शतक जड़ने वाले भारतीय खिलाड़ी

क्रिकेट की दुनिया में टेस्ट क्रिकेट को क्रिकेट का सबसे कठिन फॉर्मेट माना जाता है। क्योंकि इस फॉर्मेट में खिलाड़ियों की कठिन परीक्षा होती है। पांच दिनों तक खिलाड़ियों को लगातार खेलना होता है। इसलिए शारीरिक और मानसिक फिटनेस बहुत मायने रखती है। टेस्ट क्रिकेट में बल्लेबाजों और गेंदबाजों दोनों के धैर्य की कड़ी परीक्षा होती है। फटाफट क्रिकेट के विपरीत टेस्ट क्रिकेट में बल्लेबाजों को संभल कर खेलना होता है। इसलिए बल्लेबाजी करना आसान नहीं होता क्योंकि ज्यादा डॉट गेंदे खेलने से कई बार बल्लेबाजों का धैर्य टूट जाता है और वे अपना विकेट भी गवां बैठते हैं।

इसलिए टेस्ट क्रिकेट में किसी भी बल्लेबाज द्वारा जमाया गया शतक काफी मायने रखता है। इस आर्टिकल में हम भारत के ऐसे ही धुंरधरों के बारे में बताएंगे जिन्होंने बल्लेबाजी क्रम में नंबर-1 से लेकर नंबर-11 तक बल्लेबाजी करते हुए सबसे ज्यादा शतक जड़े हैं-

नंबर-1 व नंबर-2 (ओपनिंग बल्लेबाज)

नंबर-1 और 2 पर सलामी जोड़ी मैदान पर उतरती है। टेस्ट क्रिकेट में सलामी जोड़ी पर सबसे ज्यादा दबाव होता है क्योंकि उन्हें नई गेंद का सामना करना पड़ता है और लाल गेंद से तेज गेंदबाजों को जबरदस्त स्विंग भी प्राप्त होती है जिससे बल्लेबाज को खासी मुश्किल होती है। इसके अलावा सलामी बल्लेबाजों पर टीम को अच्छी शुरूआत देने का भी दारोमदार होता है। ऐसे में भारत के सबसे सफल सलामी बल्लेबाज रहे हैं महान सुनील गावस्कर। गावस्कर ने अपने करियर में 34 टेस्ट शतक जड़े हैं और इनमें से 33 शतक उन्होंने बतौर सलामी बल्लेबाज ठोके हैं। वे उस समय क्रिकेट के स्टार थे जब वेस्टइंडीज के तेज गेंदबाजों की तूती बोलती थी और तब गेंदबाजों का अधिक बोलबाला हुआ करता था। लेकिन वे अपने समय में सबसे ज्यादा शतक जड़ने वाले बल्लेबाज बनें। बाद में इस रिकॉर्ड को सचिन तेंदुलकर ने तोड़ा। इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं वे कि इतने महान बल्लेबाज क्यों हैं।

नंबर-3

यदि सलामी जोड़ी जल्दी टूट जाती है तो नंबर तीन के बल्लेबाज पर जिम्मेदारी बढ़ जाती है ऐसे में नंबर-तीन पोजीशन भी काफी अहम है। नंबर-तीन पर सबसे ज्यादा शतक जमाने वाले भारतीय बल्लेबाजों में सबसे ऊपर "द वॉल" के नाम से मशहूर राहुल द्रविड़ का नाम है। राहुल द्रविड़ को आउट करने में अच्छे-अच्छे गेंदबाजों के पसीने छूट जाते थे लेकिन वे विकेट पर डट कर खड़े रहते थे। इसलिए उन्हें "द वॉल" नाम दिया गया। द्रविड़ ने अपने टेस्ट करियर में कुल 36 शतक लगाए इनमें से 28 शतक उन्होंने नंबर-तीन पर बल्लेबाजी करते हुए बनाए। कई बार उन्होंने टीम इंडिया को दबाव में से निकाला इसलिए उन्होंने "सकंटमोचन" और "भरोसेमंद" भी कहा जाता है।

नंबर-4

नंबर-चार पर बल्लेबाजी करते हुए सबसे ज्यादा शतक जमाने वाले भारतीय बल्लेबाजों में महान सचिन तेंदुलकर का नाम दर्ज है। "गॉड ऑफ क्रिकेट" के नाम से पहचाने जाने वाले सचिन तेंदुलकर रिकॉर्डों के बेेताज बादशाह भी हैं। सचिन तेंदुलकर के नाम टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक शतक लगाने का रिकॉर्ड भी दर्ज है। उन्होंने टेस्ट मैचों में 51 शतक जड़े हैं जो कि बहुत बड़ी उपलब्धि है। इन 51 शतकों में से 44 शतक उन्होंने नंबर-चार पर बल्लेबाजी करते हुए लगाए। नंबर-चार पर सचिन ने 275 पारियों में बल्लेबाजी की। वे भारत ही नहीं बल्कि नंबर-चार पर बल्लेबाजी करते हुए सबसे ज्यादा शतक जमाने वाले दुनियाभर के क्रिकेटर्स में सबसे पहले नंबर पर हैं।

नंबर-5

नंबर-5 की पोजिशन भी काफी अहम होती है क्योंकि मध्यक्रम का काम होता है कि वह अपनी बल्लेबाजी से स्कोर को और आगे तक लेकर जाएं और बेहतरीन फिनिश करे। भारत की ओर से नंबर-5 पर बल्लेबाजी करते हुए सबसे ज्यादा शतक भारत के पूर्व कप्तान रह चुके मोहम्मद अजहरूद्दीन ने लगाए हैं। अपने टेस्ट करियर में उन्होंने 99 टेस्ट खेले। उन्होंने नंबर-पांच पर बल्लेबाजी करते हुए 16 शतक अपने नाम किए। उनके नाम टेस्ट में कुल 22 शतक दर्ज हैं।

नंबर-6

नंबर-6 पर भारत के दो बल्लेबाजों ने समान शतक लगाए हैं। ये दो बल्लेबाज हैं वीवीएस लक्ष्मण और वर्तमान में टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री। दोनों के नाम नंबर-6 पर बल्लेबाजी करते हुए 5-5 शतक दर्ज हैं। नंबर-6 पर बल्लेबाजी करते हुए लक्ष्मण का औसत 50 का रहा वहीं, शास्त्री का औसत 35 का था। कुल शतकों की बात की जाए तो लक्ष्मण ने टेस्ट करियर में 17 शतक जड़े वहीं रवि शास्त्री ने अपने टेस्ट करियर में 11 शतक ठोके।

नंबर-7

नंबर-7 पर बल्लेबाजी करते हुए भारत की ओर से सबसे ज्यादा शतक लगाने वाले खिलाड़ी हैं, महान ऑलराउंडर कपिल देव। कपिल देव की गिनती दुनिया के सबसे महान क्रिकेटर्स में की जाती है। उन्हीं की कप्तानी में भारत ने पहला विश्व कप जीता था। उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में भी अपनी धाक जमाई। कपिल देव ने 131 टेस्ट मैचों में 8 शतक ठोके, इनमें से 5 शतक उन्होंने नंबर-7 पर बल्लेबाजी करते हुए लगाए। कपिल के नाम टेस्ट में 5000 से ज्यादा रन और 400 से ज्यादा विकेट चटकाने का रिकॉर्ड दर्ज है।

नंबर-8

भारत के रविचंद्रन अश्विन को गेंदबाज के रूप में ज्यादा जाना जाता है और वे टेस्ट मैचों में टीम इंडिया के मुख्य एवं सफल स्पिनर भी हैं। लेकिन वे बल्लेबाजी में भी अपने जलवे दिखा चुके हैं और उनके बल्ले से कई बार दबाव में अच्छी पारियां आई हैं। 78 टेस्ट मैच खेल चुके अश्विन टेस्ट मैचों में 5 शतक अपने नाम कर चुके हैं। इनमें से 3 शतक नंबर-8 पर बल्लेबाजी करते हुए आए। भारत की ओर से नंबर-8 पर बल्लेबाजी करते हुए सबसे ज्यादा शतक उनके नाम ही हैं। विश्व क्रिकेट की बात की जाए तो यह रिकॉर्ड न्यूजीलैंड के डेनियल वेटोरी के नाम हैं जिनके नाम नंबर-8 पर बल्लेबाजी करते हुए 4 शतक दर्ज हैं।

नंबर- 9, 10 और 11

टेस्ट क्रिकेट में भारत की ओर से नंबर- 9, 10 और 11 पर बल्लेबाजी करते हुए किसी ने भी शतक नहीं लगाया है। यदि विश्व क्रिकेट की बात की जाए तो नंबर-9 पर बल्लेबाजी करते हुए दक्षिण अफ्रीका के शॉन पॉलक ने 2 शतक जड़े हैं। वहीं नंबर-10 पर बल्लेबाजी करते हुए केवल एक बल्लेबाज ने शतक बनाया है और वे हैं ऑस्ट्रेलिया के रेगी डफ। वहीं नंबर-11 पर बल्लेबाजी करते हुए अभी किसी भी खिलाड़ी ने शतक नहीं लगाया है।

RELATED ARTICLES

Subscribe

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

https://www.myteam11.com/

Most Popular