क्रिकेट इतिहास में बल्लेबाजों की बेहतरीन जोड़ियां

क्रिकेट में हर दिन कोई न कोई रिकाॅर्ड टूटते बनते रहते हैं, लेकिन कुछ रिकाॅर्ड ऐसे भी हैं जो एक खिलाड़ी अकेला नहीं बना सकता और इन्हें बनाने में भी काफी लंबा समय लगता है। जी हां, क्रिकेट के खेल में यदि आपको बड़ा स्कोर खड़ा करना है फिर चाहे विपक्षी टीम को बड़ा लक्ष्य देना हो या किसी बड़े लक्ष्य का पीछा करना हो, इनमें बहुत जरूरी है दो बल्लेबाजों के बीच अच्छी साझेदारी होना। आइए जानते हैं क्रिकेट इतिहास में बल्लेबाजों की वे कौनसी बेहतरीन जोड़ियां रही हैं, जिन्होंने साझेदारी कर अपनी टीम को कई मैचों में जीत दिलाई और नए आयामों को छुआ-

5. एडम गिलक्रिस्ट-मैथ्यू हेडन

ये दोनों ऑस्ट्रेलिया  के सलामी बल्लेबाज रहे हैं। इनकी जोड़ी ने ऑस्ट्रेलिया को कई मैचों में जीत दिलाई है, दोनों ही आक्रामक बल्लेबाजी कर विपक्षी टीम के गेंदबाजों का आत्मविश्वास तोड़ देते थे। ओपनिंग करते हुए दोनों के बीच 16 बार शतकीय साझेदारियां हुईं, जिसमें 2003 विश्व कप फाइनल में हुई 105 रन की साझेदारी भी शामिल है, इनकी साझेदारी की बदौलत ही ऑस्ट्रेलिया ने इतना बड़ा स्कोर खड़ा किया था। 8 सालों में इस जोड़ी ने 117 पारियों में 47.44 की औसत से 5049 जोड़े थे।

4. गोरडाॅन ग्रीनीज-डेसमंड हेन्स

वेस्टइंडीज के इन बल्लेबाजों ने 1978 से 1991 तक एक साथ ओपनिंग की, 80 के दशक में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में वेस्ट इंडीज का बोलबाला था और उसमें वेस्टइंडीज के घातक गेंदबाजों के साथ इन दोनों बल्लेबाजों का नाम भी शामिल था। उस समय इनकी जोड़ी को तोड़ना गेंदबाजों के लिए बहुत मुश्किल होता था। इस जोड़ी ने वेस्टइंडीज के लिए 251 पारियों में 49.52 की औसत से 31 शतकीय और 51 बार अर्धशतकीय साझेदारियां की ।

3. रोहित शर्मा-विराट कोहली 

वर्तमान क्रिकेट की सबसे मशहूर और दमदार जोड़ी। भारत के विराट और रोहित बल्लेबाजों की वनडे रैंकिंग में क्रमशः पहले और दूसरे स्थान पर हैं। रोहित भारत के सलामी बल्लेबाज हैं वहीं विराट नंबर तीन पर बल्लेबाजी करते हैं। दोनों ही बल्लेबाजों ने अब तक 79 पारियों में 64.06 की औसत से 4741 रन जोड़ें हैं, इनके नाम 17 शतकीय साझेदारियां दर्ज हैं। सबसे सर्वश्रेष्ठ साझेदारी 246 रनों की है जो वेस्टइंडीज के खिलाफ एक वनडे मैच में 323 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए की थी।

2. सचिन तेंदुलकर-सौरव गांगुली

दोनों को भारतीय टीम की अब तक की सबसे बेस्ट जोड़ी कहा जाता है। गांगुली 1992 में टीम में आए थे लेकिन फिर बाहर हो गए थे, वर्ष 1996 में वे फिर से टीम का हिस्सा बनें और उन्हें सचिन तेंदुलकर के साथ ओपनिंग करने का मौका मिला। टेस्ट और वनडे दोनों में ही उनकी जोड़ी ने टीम को मजबूती प्रदान की। उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की 247 पारियों में 54.45 की औसत से कुल 12400 रन जोड़े थे, जिसमें 38 शतकीय और 45 अर्धशतकीय साझेदारियां शामिल हैं। उनके नाम अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा बार शतकीय साझेदारियां करने का रिकाॅर्ड दर्ज है।

1. महेला जयवर्धने-कुमार संगकारा

दोनों बल्लेबाज 14 वर्षों, 2000 से 2014 तक श्रीलंकाई टीम की रीढ़ रहे। दोनों ने रनों के मामले में सचिन और सौरव की जोड़ी का रिकाॅर्ड तोड़ा, क्योंकि दोनों बल्लेबाजों ने श्रीलंका के लिए टी20 क्रिकेट भी खेला है। श्रीलंका के इन स्टार बल्लेबाजों ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की 272 पारियों में 47.99 की औसत से 33 शतकीय एवं 57 अर्धशतकीय साझेदारियां कर 12430 रन जोड़े। दोनों के नाम टेस्ट इतिहास की सबसे बड़ी साझेदारी का रिकाॅर्ड भी दर्ज है, साल 2006 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ कोलंबो में दोनों ने 624 रनों की साझेदारी की थी।