Thursday, February 29, 2024
HomeSportsCricketकौन से खिलाड़ियों से होगी उम्मीदें और क्या हो सकती है चेन्नई...

कौन से खिलाड़ियों से होगी उम्मीदें और क्या हो सकती है चेन्नई की संभावित एकादश?

इंडियन टी20 लीग का 13वां सीजन यूएई में आयोजित किया गया। लेकिन यह एक ऐसा सीजन था जिसे इंडियन टी20 लीग की दिग्गज टीम चेन्नई याद रखना नहीं चाहेगी। क्योंकि उनके लिए यह सीजन काफी खराब रहा था और वे पहली बार इस लीग के इतिहास में प्लेऑफ तक भी नहीं पहुंच पाई थी। चेन्नई ने पिछले साल सातवें स्थान पर रहकर लीग का समापन किया। 

हालांकि इस बार फिर से टूर्नामेंट भारत में आयोजित किया जाएगा और चेन्नई ने कुछ नए चेहरों को अपनी टीम में शामिल किया है। चेतेश्वर पुजारा की उपस्थिति देखने लायक होगी, साथ-साथ हरफनमौला खिलाड़ी मोइन अली और कृष्णप्पा गौथम के प्रदर्शन पर भी नजर रहेगी।

इस आर्टिकल में हम चेन्नई टीम की संभावित एकादश के बारे में बताने जा रहे हैं। साथ ही कौन से वो खिलाड़ी होंगे जिनसे काफी उम्मीदें होंगी। क्योंकि पिछले सीजन में भले ही चेन्नई प्ले ऑफ तक नहीं पहुंच पाई हो लेकिन चेन्नई के लिए कुछ नए खिलाड़ियों ने काफी कमाल का प्रदर्शन किया था, तो क्या इस सीजन में वे खिलाड़ी दोहरा पाएंगे वैसा ही प्रदर्शन?

सलामी बल्लेबाज-

ऋतुराज गायकवाड़- फाफ डु प्लेसिस

पिछले सीजन में ऋतुराज गायकवाड़ ने इंडियन टी20 लीग में पदार्पण किया। हालांकि शुरूआत इतनी अच्छी नहीं रही थी। लेकिन आखिरी तीन मैचों में बतौर सलामी बल्लेबाज उन्होंने लगातार तीन अर्धशतक जड़े और अपनी उपयोगिता साबित की। हालांकि इंडियन टी20 ट्रॉफी में उनका प्रदर्शन उतना खास नहीं रहा । लेकिन चेन्नई के लिए एक बार फिर से वे छाप छोड़ने के लिए तैयार रहेंगे। धोनी की कप्तानी में वे अपने आप को और निखार सकते हैं। पिछले वर्ष उन्होंने 6 मैचों में 51 की औसत से 204 रन बनाए थे।

वहीं चेन्नई के पास एन जगदीसन, रॉबिन उथप्पा और अंबाती रायडू के रूप में भी सलामी बल्लेबाज के विकल्प होंगे। लेकिन जहां तक है चेन्नई फाफ डु प्लेसिस और गायकवाड़ की जोड़ी को मैदान पर भेजना पसंद करेगी।  डु प्लेसिस ने पिछले साल 13 मैचों में 40.81 के औसत और 140.75 के स्ट्राइक रेट से 449 रन बनाए। चेन्नई अपनी युवा व अनुभवी जोड़ी के साथ जाना पसंद करेगी।

मध्यक्रम-

सुरेश रैना, अंबाती रायडू, एम एस धोनी

चेन्नई टीम के प्रमुख स्तंभ सुरेश रैना पिछले वर्ष इंडियन टी20 लीग में नहीं खेले थे और चेन्नई प्लेऑफ तक भी नहीं पहुंच पाई। यह चेन्नई में उनकी उपयोगिता को दर्शाता है। चेन्नई के उपकप्तान रैना इस वर्ष चेन्नई के साथ फिर से जुड़ेंग और टीम के मध्यक्रम को मजबूत करेंगे। रैना के पास इंडियन टी20 लीग का अपार अनुभव है और वे एक सफल बल्लेबाज हैं हालांकि काफी समय से वे क्रिकेट से दूर रहे, इसलिए यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या वे इस सीजन में अपना पुराना जादू बरकरार रख पाएंगे।

नंबर 4 पर हैदराबाद के अंबाती रायडू हो सकते हैं। वे भी चेन्नई टीम के नियमित सदस्य हैं। लेकिन उन्होंने भी पिछले साल इंडियन टी20 लीग के बाद मैच नहीं खेले हैं। लेकिन पिछले सीजन में उन्होंने चेन्नई के लिए 359 रन बनाए थे। रायडू मध्यक्रम के सक्षम बल्लेबाज हैं वे बड़े शॉट्स भी खेलते हैं और नियमित स्ट्राइक भी रोटेट करते हैं। 

चेन्नई के कप्तान धोनी नंबर पांच पर बल्लेबाजी करते हैं और मैच फिनिशर की भूमिका निभाते हैं। वे चेन्नई की टीम की एकादश का हिस्सा होंगे इसमें कोई दो राय नहीं। चेन्नई को तीन बार चैंपियन का खिताब दिलवा चुके धोनी पिछले इंडियन टी20 लीग के प्रदर्शन को भूलकर एक बार फिर से टूर्नामेंट में धमाकेदार वापसी करना चाहेंगे।

ऑलराउंडर्स-

रवींद्र जडेजा, सैम करेन, मोइन अली

रवींद्र जडेजा चेन्नई टीम के स्टार ऑलरांउडर है। उनके प्लेइंग इलेवन में शामिल होने पर कोई संदेह नहीं है। उन्होंने चेन्नई के लिए अंतिम ओवरों में कई बार धमाकेदार बल्लेबाजी की है साथ ही वे अपनी गेंदबाजी से भी कमाल दिखाते हैं। पिछले वर्ष 14 मैचों में उन्होंने 232 रन बनाए थे साथ ही 6 विकेट भी चटकाए थे। वे चोट के चलते पिछले कुछ महीने से अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से दूर हैं। लेकिन अब वे फिट हैं और वापसी करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं।

एक और ऑलराउंडर के रूप में ब्रावो और मोइन अली के बीच होड होगी। इस बीच चेन्नई टीम कृष्णप्पा गौथम को भी मौका दे सकती है। गौथम के लिए चेन्नई ने काफी ऊँची बोली लगाई थी। ब्रावो लगातार चोटों से जूझ रहे हैं ऐसे में टीम नए खिलाड़ियों को मौका दे सकती है। हाल ही में इंग्लैंड के खिलाफ शार्दुल ठाकुर ने भी बल्ले और गेंद दोंनो से प्रभावित किया था ऐसे में चेन्नई के पास शार्दुल ठाकुर के रूप में एक विकल्प होगा।

इंग्लैंड के एक और युवा स्टार सैम करेन ने पिछले सीजन में काफी प्रभावित किया था। हाल ही में टीम इंडिया और इंग्लैंड के बीच हुई सीरीज में भी उन्होंने कमाल का प्रदर्शन किया था। ऐसे मेें वे चेन्नई टीम में फिर से दिखाई देंगे इस बात की पूरी संभावना है।

गेंदबाज-

शार्दुल ठाकुर, दीपक चाहर, इमरान ताहिर

शार्दुल ठाकुर चेन्नई टीम के नियमित गेंदबाज हैं। पिछले सीजन में उन्होंने 9 मैचों में 8.5 की इकॉनमी दर से केवल 10 विकेट हासिल किए थे। उन्होंने हाल ही इंग्लैंड के खिलाफ हुई सीरीज में वनडे व टी20 मैचों में सर्वाधिक विकेट झटके। ऐसे में वे इस सीजन में चेन्नई के गेंदबाजी आक्रमण की कमान संभालेंगे। 

दीपक चाहर ने हालांकि पिछले साल उतना अच्छा प्रदर्शन नहीं किया था। हालांकि 7.61 की इकॉनमी दर से वे किफायती रहे थे। उन्होंने पिछले साल 14 मैचों में 12 विकेट झटके थे। हालांकि भारतीय पिचों पर टीम उनसे बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद करेगी। 

लेग स्पिनर इमरान ताहिर ने भी चेन्नई के लिए काफी उम्दा प्रदर्शन किया है। हालांकि वे यूएई में आयोजित हुए इंडियन टी20 लीग सीजन में अधिकतर बैंच पर ही थे। लेकिन इंडियन पिचों पर उनकी कमाल की गेंदबाजी और उनके अनुभव के कारण टीम उन्हें फिर से अपनी एकादश में शामिल कर सकती है। 

हालांकि टीम के पास लुंगी एनगिडी और जोश हेजलवुड के रूप मेें भी गेंदबाजी विकल्प हैं जिन्हें चेन्नई अपनी एकादश में शामिल कर सकती है। 

चेन्नई की संभावित प्लेंइग इलेवन-

ऋतुराज गायकवाड़, फाफ डु प्लेसिस, सुरेश रैना, अंबाती रायडू, एमएस धोनी (कप्तान एवं विकेटकीपर), रवींद्र जडेजा, सैम करेन, मोइन अली, शार्दुल ठाकुर, दीपक चाहर, इमरान ताहिर

चेन्नई टीम पिचों और परिस्थितियों के अनुसार अपनी प्लेइंग इलेवन तैयार करेगी। जैसे-जैसे टूर्नामेंट आगे बढ़ेगा हम प्लेइंग इलेवन में बदलाव देख सकते हैं।

RELATED ARTICLES

Subscribe

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

https://www.myteam11.com/

Most Popular