Wednesday, March 22, 2023
HomeSportsCricketइंडियन टी20 लीग 2021 : दूसरे चरण में इन अनकैप्ड खिलाड़ियों पर...

इंडियन टी20 लीग 2021 : दूसरे चरण में इन अनकैप्ड खिलाड़ियों पर होगी नजरें

इंडियन टी20 लीग 2021 के आयोजन को कोरोना के चलते स्थगित करना पड़ा। आधा टूर्नामेंट पूरा हो जाने के बाद महामारी के चलते इसे स्थगित करने का निर्णय लिया गया। टूर्नामेंट के बचे हुए मैच अब यूएई में आयोजित किए जाएंगे। टूर्नामेंट का दूसरा चरण 19 सितंबर से 15 अक्टूबर तक आयोजित किया जाना है। 

इंडियन टी20 लीग ने बहुत से भारतीय खिलाड़ियों को अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करने का मंच प्रदान किया है। बहुत से ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने घरेलू क्रिकेट में बेहतर प्रदर्शन किया लेकिन राष्ट्रीय टीम में अबतक अपनी जगह नहीं बना पाए है। लेकिन ऐसे खिलाड़ियों ने इंडियन टी20 लीग में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है। इस आर्टिकल में हम उन्हीं अनकैप्ड खिलाड़ियों के बारे में बताएंगे जो इंडियन टी20 लीग के दूसरे चरण में अपनी टीमों के लिए बेहतरीन प्रदर्शन कर सकते हैं-

हर्षल पटेल

दाएं हाथ के मध्यम तेज गेंदबाज इंडियन टी20 लीग के पहले हाफ में बैंगलोर के कप्तान विराट कोहली के पसंदीदा गेंदबाज रहे हैं। हर्षल पटेल सबसे होनहार खिलाड़ियों में से एक बनकर उभरे हैं। जब भी बैंगलोर को पटेल की जरूरत हुई है तब-तब उन्होंने टीम के लिए योगदान दिया है। टूर्नामेंट के इस सीज़न में बैंगलोर के प्रदर्शन ने दर्शकों को चकित कर दिया है क्योंकि हर बार के विपरीत, टीम को अच्छी शुरुआत मिली है और हर्षल पटेल ने उनके लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

इंडियन टी20 लीग 2021 के शुरुआती मैच में, जिसमें मुंबई और बैंगलोर के बीच मुकाबला हुआ था, उसमें हर्षल पटेल पांच बार के चैंपिंयन मुंबई के खिलाफ पांच विकेट लेने वाले पहले गेंदबाज बने। मुंबई के पावर हिटर्स ईशान किशन और हार्दिक पांड्या के महत्वपूर्ण विकेटों को चटकाकर, उन्होंने मुंबई को बैकफुट पर धकेल दिया। इसके बाद उन्होंने अंतिम ओवर में 3 और विकेट लिए। हर्षल ने हर मैच में टीम के लिए कम से कम दो विकेट झटके हैं और बैंगलोर की सफलता में अहम भूमिका निभाई है।

हर्षल पटेल ने इंडियन टी20 लीग 2021 में अपने पिछले पांच इंडियन टी20 लीग सीजन की तुलना में अधिक विकेट लिए हैं। वर्तमान में, वह टूर्नामेंट के सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज के रूप में शीर्ष पर है। उन्होंने अब तक 17 विकेट चटकाए हैं और इस बात में कोई दो राय नहीं है कि वह टूर्नामेंट के बाकी चरण में भी वह टीम के लिए महत्वपूर्ण होंगे। 

आवेश खान

आवेश खान ने इंडियन टी20 लीग 2021 के पहले चरण में अपने शानदार प्रदर्शन के दम पर लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचा है। उन्होंने सीजन के पहले चरण में निरंतर बेहतरीन गेंदबाजी की। अपनी गेंदबाजी की क्षमता के कारण, उन्हें एक रिजर्व गेंदबाज के रूप में इंग्लैंड-भारत पांच मैचों की टेस्ट श्रृंखला के लिए कॉल आया।

किसी भी खिलाड़ी का स्वभाव और क्षमताएं तब सामने आती हैं, जब वे मुश्किल क्षणों का सामना कर रहे होते हैं। दबाव की परिस्थितियों में अवेश खान ने अपनी गेंदबाजी से सभी को प्रभावित किया, दिल्ली के कप्तान ऋषभ पंत ने मुश्किल होने पर उनकी ओर रुख किया। कप्तान द्वारा नई गेंद के साथ और डेथ ओवर्स में भी उनका इस्तेमाल किया गया था, और दोनों परिस्थितियों में आवेश खान खेल पर पूर्ण नियंत्रण में दिखे।

आवेश खान इंडियन टी20 लीग 2021 सीजन के अब तक दूसरे सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं। उन्होंने 7.70 की इकॉनमी रेट से 14 विकेट हासिल किए हैं। यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि सूची के सभी तेज गेंदबाजों में, उनकी इकॉनमी रेट सबसे कम है। उन्होंने इंडियन टी20 लीग 2020 में सिर्फ एक मैच खेला और किसी को भी उम्मीद नहीं थी कि वह इस साल ऐसा प्रभाव पैदा करेंगे। दिल्ली की ओर से आवेश खान निश्चित रूप से एक ऐसे खिलाड़ी हैं जिन पर कई निगाहें टिकी होंगी।

शाहरुख खान

तमिलनाडु के 25 वर्षीय बल्लेबाज को पंजाब ने इंडियन टी20 लीग-2021 की नीलामी में 5.25 करोड़ रुपये में खरीदा। शाहरुख खान एक ऐसे खिलाड़ी हैं जिनके पास परिस्थितियों के अनुसार खेलने के लिए क्षमता है। वह धीरे-धीरे भी खेल को आगे ले जा सकते हैं और साथ ही मैच फिनिश करने के लिए बड़े शॉट्स भी लगा सकते हैं। आईपीएल 2021 के स्थगित होने से पहले, युवा खिलाड़ी ने टूर्नामेंट में अपनी ताकत की झलक उन परिस्थितियों में दिखाई जब टीम को उनकी जरूरत थी।

उन्होंने भले ही कोई बड़ा प्रभावशाली स्कोर दर्ज नहीं किया हो, लेकिन उनकी कैमियो पारियों ने पंजाब को बेहतर स्थिति में लाने में मदद की। शाहरुख खान ने आक्रामक और धैर्यवान दोनों तरह की पारी खेली क्योंकि टीम मध्य क्रम में अपनी बल्लेबाजी से जूझती दिख रही थी। चेन्नई के खिलाफ मैच में पंजाब की टीम पांचवें ओवर में 19 रन पर चार विकेट खो चुकी थी । शाहरुख खान आए, जिन्होंने 36 गेंदों में 47 रनों की शानदार पारी खेली, जिसके कारण टीम 100 के स्कोर को पार करने में सफल रही।

हाल ही में समाप्त हुई तमिलनाडु टी20 लीग में, उनका विलो के साथ अच्छा प्रदर्शन था। दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने अपनी टीम लाइका के लिए खेलते हुए टूर्नामेंट में 177.96 के स्ट्राइक रेट से 210 रन बनाए। जैसे ही अगले महीने इंडियन टी20 लीग फिर से शुरू होगी, शाहरुख खान का योगदान पंजाब के लिए महत्वपूर्ण होगा।

रविश्रीनिवासन साई किशोर

स्पिन गेंदबाज रविश्रीनिवासन साई किशोर ने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी और तमिलनाडु टी20 लीग में अपनी बेहतरीन गेंदबाजी की बदौलत अपनी टीम को कई मैच जिताए। उन्होंने सैयद मुश्ताक अली टूर्नामेंट में 4.82 की इकॉनमी रेट से आठ विकेट लिए। इसके बाद चेन्नई ने उनके साथ कॉन्ट्रेक्ट किया और फिर उन्हें भारत के श्रीलंका दौरे के लिए एक रिजर्व गेंदबाज बनने का मौका मिला।

इंडियन टी20 लीग के पहले हाफ के लिए चेन्नई के खेमे में होने से उन्हें काफी चीजें सीखने को मिली होंगी। तमिलनाडु टी20 लीग 2021 में, उन्होंने थोड़ी देर से प्रवेश किया, लेकिन अपनी प्रतिभा का जादू बिखेरने में सफल रहे। वह अपने खाते में कुल 12 विकेट लेकर टूर्नामेंट के दूसरे सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज के रूप में थे।

वे टूर्नामेंट में चेपॉक का हिस्सा थे, उनकी टीम ने खिताब जीता और इसमें साई की महत्वपूर्ण भूमिका थी। साई किशोर के प्रदर्शन को देखते हुए, कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जो युवा प्रतिभाओं को संवारने में विश्वास करते हैं, उन्हें यूएई लेग में आजमा सकते हैं। एक अवसर को देखते हुए, स्पिनर इस पल को भुनाने के लिए तत्पर रहेेंगे और निश्चित रूप से वे एक ऐसे खिलाड़ी हैं जिस पर ध्यान देना चाहिए।

अर्शदीप सिंह

क्रिकेट में बल्लेबाजों का योगदान बहुत जरूरी माना जाता है लेकिन गेंदबाज भी खेल की किस्मत बदलने में कोई कसर नहीं छोड़ते हैं। अर्शदीप सिंह ने अंतिम ओवरों में कसी हुई गेंदबाजी के चलते प्रभावित किया है। अर्शदीप ने अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन तब किया जब टीम को सबसे ज्यादा जरूरत थी

उन्होंने इस साल राजस्थान के खिलाफ टूर्नामेंट के अपने शुरुआती मैच में पंजाब की जीत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। सैमसन की पारी से राजस्थान के लिए लगभग मैच जीत लिया था, लेकिन अर्शदीप ने 35 रन देकर उस मैच में 3 विकेट झटके थे उन्होंने अंतिम ओवर में 13 रन का बचाव किया। सीके नायडू ट्रॉफी और विजय हजारे टूर्नामेंट में उनके अच्छे प्रदर्शन के बाद, उन्हें 2019 में पंजाब के ट्रायल के लिए बुलाया गया था और तब से वह टीम के साथ हैं। मोहाली में अपने घरेलू मैदान पर जोस बटलर और अजिंक्य रहाणे के विकेट चटकाते हुए उन्होंने अपने इंडियन टी20 लीग डेब्यू पर अपने कौशल का ढोल बजा दिया।

इंडियन टी20 लीग के पिछले दो सत्रों में, वह टीम के लिए सबसे विश्वसनीय डेथ बॉलिंग विकल्पों में से एक रहे हैं। घातक यॉर्कर्स फेंकन की क्षमता ने उन्हें चारों ओर से प्रशंसा दिलाई है। इंडियन टी20 लीग 2021 के पहले हाफ में, मध्यम तेज गेंदबाज ने सात विकेट लिए हैं। टूर्नामेंट के दूसरे चरण में प्रवेश करते हुए, अर्शदीप सिंह एक बार फिर पंजाब के लिए सफलता का खाका तैयार करना चाहेंगे।

RELATED ARTICLES

Subscribe

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

https://www.myteam11.com/

Most Popular