Wednesday, April 17, 2024
HomeSportsCricketइंडियन टी-20 लीग के आयोजन के लिए यूएई क्यों है बीसीसीआई...

इंडियन टी-20 लीग के आयोजन के लिए यूएई क्यों है बीसीसीआई की पहली पसंद?

कोरोना वायरस महामारी के कारण दुनियाभर का खेल जगत प्रभावित हुआ, इसके कारण अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट भी पिछले कुछ महीनों से ठप पड़ा है, लेकिन वर्तमान में जारी इंग्लैण्ड बनाम वेस्ट इंडीज टेस्ट श्रृंखला से अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी हुई है। लेकिन आईसीसी ने इस साल होने वाले टी-20 विश्वकप को टाल दिया है और अब इसका आयोजन 2021 में किया जाएगा। लेकिन इसी के साथ क्रिकेट प्रेमियों के लिए एक और खुशखबरी सामने आई है और वो ये है कि अब कोरोना वायरस के कारण स्थगित की गई क्रिकेट की सबसे मशहूर लीग इंडियन टी-20 लीग के आयोजन का रास्ता साफ हो गया है। 

इंडियन टी-20 लीग का आयोजन पहले 29 मार्च से 24 मई तक किया जाना था, लेकिन कोरोना के चलते इसे अनिश्चित काल के लिए टाल दिया गया था, और अब इसके होने का रास्ता साफ हो चुका है। संभवतया लीग का आयोजन सितंबर से नवंबर माह के बीच किया जा सकता है। लेकिन अब लीग का आयोजन भारत में नहीं होगा, इसका आयोजन अब यूएई यानि संयुक्त अरब अमीरात में होना तय माना जा रहा है।

यूएई के अलावा कई देशों ने इंडियन टी-20 लीग के आयोजन की पेशकश की थी, लेकिन बीसीसीआई की पहली पसंद यूएई ही रहा और अब लीग का आयोजन यूएई में ही होगा, लेकिन क्या आप जानते हैं कि बीसीसीआई ने यूएई को ही आयोजन के लिए क्यों चुना है?

आइए जानते हैं इसके पीछे क्या कारण है-

•    सुरक्षित वातावरण-

यूएई अन्य देशों के मुकाबले ज्यादा सुरक्षित माना जा रहा है और यूएई सभी खिलाड़ियों को बायो-सिक्योर वातावरण उपलब्ध करवाने में ज्यादा सक्षम है। यूएई ने महामारी के खिलाफ प्रभावशाली तरीके से लड़ाई लड़ी है वे कोरोनोवायरस संकट के दौरान सबसे कम प्रभावित देशों में से एक हैं और यह उन्हें इतनी बड़ी ग्लोबल लीग की मेजबानी करने के लिए एक आदर्श उम्मीदवार बनाता है। 23 जून से यूएई ने कुछ देशों के लिए फ्लाइट के आवागमन को भी सुचारू कर दिया है और यह इंडियन टी-20 लीग की मेजबानी के लिए यूएई का सबसे बड़ा प्लस प्वाइंट है।

•    मेजबानी का अनुभव-

साल 2014 में भारत में लोकसभा चुनावों के चलते इंडियन टी-20 लीग के शुरूआती आधे मैच यूएई में ही आयोजित करवाए गए थे, और ये सभी मैच उत्तम और आधुनिक सुविधाओं के बीच बिना किसी बाधा के सफलतापूर्वक संपन्न हुए थे। यूएई द्वारा की गई बेहतर मेजबानी के चलते ही बीसीसीआई की पहली पसंद यूएई है और सब कुछ सही रहा है तो इंडियन टी-20 लीग के 13वें संस्करण का आयोजन इस वर्ष यूएई में ही होगा।

•    यात्रा का समय

भारत में टूर्नामेंट की मेजबानी करने में एक बड़ी समस्या यह होगी कि सभी स्टेडियम एक दूसरे से बहुत दूर हैं। लेकिन, यूएई में, सभी मैदान एक दूसरे के करीब हैं और इनमें बहुत ज्यादा दूरी नहीं है। यूएई में 3 प्रमुख स्टेडियम हैं, शेख जायद क्रिकेट स्टेडियम, दुबई अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम और शारजाह क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम। ये स्टेडियम अबू धाबी, दुबई और शारजाह में स्थित हैं जो सभी अच्छी तरह से जुड़े हुए हैं।

यदि टूर्नामेंट केवल 3-4 स्टेडियमों में खेला जाने वाला है, तो यात्रा का समय बेहद कम हो जाएगा और खिलाड़ियों और कर्मचारियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए जैव-सुरक्षित वातावरण बनाना भी सुविधाजनक होगा। इसके अलावा, सभी स्टेडियमों में उच्च गुणवत्ता वाली पिचें हैं।

•    वित्तीय नुकसानों को कम करना

यदि इंडियन टी-20 लीग का आयोजन नहीं होता है तो इससे निश्चित रूप से बीसीसीआई को बड़ा नुकसान होगा, अनुमान के मुताबिक टूर्नामेंट नहीं होने की स्थिति में लगभग 4500 करोड़ का नुकसान बीसीसीआई को होगा। इसलिए बीसीसीआई हार हाल में इंडियन टी-20 लीग का आयोजन करवाना चाहता है और यूएई के अलावा कोई भी बेहतर विकल्प बीसीसीआई के पास नहीं है।

तो ये थे कुछ प्रमुख कारण जिनकी वजह से अब इंडियन टी-20 लीग आयोजन यूएई में किया जाएगा। बस अब कुछ दिन का इंतजार और, सभी खिलाड़ी और दर्शक इस धमाकेदार टूर्नामेंट के शुरू होने की प्रतीक्षा में है।

RELATED ARTICLES

Subscribe

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

https://www.myteam11.com/

Most Popular