Wednesday, February 28, 2024
HomeSportsCricketअंडर-19 विश्वकप - पाँचवी बार विश्व चैंपियन बनने को तैयार है टीम...

अंडर-19 विश्वकप – पाँचवी बार विश्व चैंपियन बनने को तैयार है टीम इंडिया

साउथ अफ्रीका में खेले जा रहे, आईसीसी अंडर-19 विश्वकप फाइनल के लिए दोनों टीमों की स्थिति स्पष्ट हो चुकी है। जहां मंगलवार 4 फरवरी को भारत ने अपने चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को 10 विकेट से करारी शिकस्त देकर फाइनल में अपनी जगह पक्की थी, वहीं गुरूवार को खेले गए सुपर लीग सेमीफाइनल-2 में बांग्लादेश ने न्यूजीलैंड को 6 विकेट से हराकर पहली बार फाइनल में अपना स्थान पक्का किया। 

अंडर-19 विश्वकप का खिताबी मुकाबला रविवार 9 फरवरी को भारत और बांग्लादेश के बीच पोचेफस्ट्रूम के सेनवेस पार्क में खेला जाएगा। अंडर-19 विश्वकप के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है कि बांग्लादेशी टीम ने फाइनल में जगह बनाई है। 

अंडर-19 विश्वकप में भारत के प्रदर्शन की बात की जाए तो, यह सातवां मौका होगा जब भारत टूर्नामेंट का फाइनल खेलेगा। इससे पिछला विश्वकप भी भारत ने ही जीता था। यह भारत के पास दो विश्वकप लगातार जीतने का सुनहरा मौका होगा। 

अंडर- 19 विश्वकप में भारत और बांग्लादेश

अंडर-19 विश्वकप में भारत और बांग्लादेश की चार बार भिडंत हुई है 

वर्ष 2000 के अंडर-19 विश्वकप में दोनों टीमों के बीच पहली बार मैच खेला गया। मोहम्मद कैफ की कप्तानी में भारत ने बांग्लादेश को 122 रनों से हराया था।

पार्थिव पटेल की कप्तानी में वर्ष 2002 में भारत की टीम फिर बांग्लादेश से भिड़ी। इस मैच में बांग्लादेश ने भारत को मात्र 77 रनों पर ऑलआउट कर दिया। इस मैच में बांग्लादेश ने भारत को दो विकेट से हरा दिया था।

2004 में हुए विश्वकप में अंबाती रायडू की कप्तानी में भारत ने बांग्लादेश को हराया था। 310 रनों के विशाल लक्ष्य का पीछा करते हुए बांग्लादेश की टीम 40.3 ओवर में ऑलआउट हो गई थी और भारत ने यह मैच जीत लिया था।

2018 के अंडर- 19 विश्वकप में भारत ने बांग्लादेश को हरा दिया था। टीम इंडिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 265 रन बनाए। जवाब में बांग्लादेश की टीम 134 रनों पर ढेर हो गई और भारत ने 131 रनों से मैच जीत लिया। 

भारतीय टीम चार बार अंडर – 19 विश्कप जीत चुकी है 

वर्ष 2000 में टीम इंडिया ने श्रीलंका को हराया था।

2008 में टीम साउथ अफ्रीका को हराकर चैंपियन बनी। 

2012 में टीम ने ऑस्ट्रेलिया को हराया। 

2018 में भी ऑस्ट्रेलिया को हराकर टीम इंडिया ने खिताब अपने नाम किया।

भारत दो बार फाइनल में हार भी चुका है, 2006 में पाकिस्तान के हाथों और 2016 में वेस्ट इंडीज के हाथों भारत को हार का सामना करना पड़ा था।

टीम इंडिया सातवीं बार फाइनल मुकाबला खेलेगी वहीं बांग्लादेश पहली बार फाइनल में पहुंची है। इसलिए टीम इंडिया के पास मनोवैज्ञानिक बढ़त रहेगी और सबसे मजेदार तथ्य यह है कि इस टूर्नामेंट में दोनों ही टीमे अजेय रही हैं, दोनों ने ही कोई भी मैच नहीं हारा है। अब यह देखना दिलचस्प होगा की कौनसी टीम का विजयी अभियान रूक जाएगा और कौनसी टीम बनेगी विश्व विजेता।

RELATED ARTICLES

Subscribe

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

https://www.myteam11.com/

Most Popular